हिमाचल दस्तक के सम्पादक व हमीरपुर जिला प्रभारी के ख़िलाफ़ पोकसो एक्ट में मामला दर्ज 

खबरें
– बडसर पुलिस ने नोटिस भेज जाँच में शामिल होने के लिए कहा।
– मामला दर्ज होने के 25 दिनों के बाद भी संस्थान आरोपियों का कर रहा बचाव
– पुलिस जाँच हुई तेज़ , कसा शिकंजा
संजीव:- बडसर उपमंडल के एक सरकारी स्कूल में स्कूली छात्रा के साथ अध्यापक द्वारा छेड़छाड़ के एक मामले को लेकर हिमाचल दस्तक अख़बार के सम्पादक व हमीरपुर जिला प्रभारी के ख़िलाफ़ आपराधिक मामला दर्ज  कर लिया गया है ।हिमाचल दस्तक अख़बार के सम्पादक व हमीरपुर जिला प्रभारी पर आरोप है कि पोकसो एक्ट के तहत दर्ज एक मामले की ख़बर में बार बार पीड़ित छात्रा के स्कूल की पहचान उजागर की गयी ।सम्पादक व हमीरपुर जिला प्रभारी के खिलफ बडसर थाने में एफआइआर नम्बर 133/2018 पोकसो एक्ट की धारा 23(2) के तहत दर्ज होने के बाद दोनों को पुलिस ने नोटिस भेज जाँच में शामिल होने के लिए कहा है। क़ाबिलेज़िक्र है कि स्कूल प्रबंधन ने इस मामले में 15 सितम्बर को ही आरोपी अध्यापक को नोटिस दे कर कार्रवाई शुरू कर दी थी । स्कूल प्रबंधन व लड़की के पिता की शिकायत पर बडसर पुलिस ने पोकसो एक्ट के तहत एक एफआईआर 128/2018 आरोपी अध्यापक के खिलाफ दर्ज कर ली थी । स्कूल प्रबंधन की भेजी रिपोर्ट पर कार्यवाई  करते हुए शिक्षा उपनिदेशक ने आरोपी अध्यापक को नौकरी से निलम्बित कर दिया था ।
इसके बावजूद हिमाचल दस्तक अख़बार के सम्पादक व जिला प्रभारी हमीरपुर द्वारा स्कूल प्रिंसिपल को निशाना बनाते हुए बार बार पीड़िता के स्कूल का नाम हिमाचल दस्तक अख़बार में प्रकाशित किया जाता रहा । इस पर कार्यवाई करते हुए शिक्षा विभाग व स्कूल प्रबंधन की शिकायत पर बडसर पुलिस ने आपराधिक मामला दर्ज कर पुलिस ने जाँच तेज़ कर दी है ।
वहीं पुष्ट जानकारी के अनुसार सम्पादक व हमीरपुर जिला प्रभारी पर आपराधिक मामला दर्ज  होने के 25 दिन बाद भी हिमाचल दस्तक संस्थान ने दोनों
( सम्पादक व जिला प्रभारी हमीरपुर  ) की सेवाएँ समाप्त नहीं की है। पुलिस द्वारा सम्पादक व जिला प्रभारी को नोटिस भेजने के बाद दोनों पर  जाँच में शामिल होने  का दबाव लगातार बढ़ता जा रहा है । इस मामले की जाँच एसआई बसंत सिंह कर रहे हैं। उनके अनुसार पुलिस की जाँच सही दिशा में चल रही है ।

Leave a Reply