हमेशा  याद रखें इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप कहां से आ रहे हैं बल्कि इससे फर्क पड़ता है कि आप कहां जा रहे हैं ?

खबरें जीवन-शैली

हर दृष्टिकोण से असाधारण होने पर आप दूसरों के साथ कैसा व्यवहार करेंगे ? दूसरों से मिलने या बातचीत करने के बाद आप उन पर कैसी छवि छोड़ना चाहेंगे? कल्पना करें कि आप पूर्णतया उत्कृष्ट व्यक्ति बन सकते हैं आप जो हैं उससे कैसे और कितने अलग होंगे ?

आप खुद को कितना पसंद करते हैं इस बात को असल में मनोविज्ञान द्वारा आत्मसम्मान का स्तर ही आपकी खुशी का स्तर तय करता है। आत्मसम्मान की परिभाषा है कि आप खुद को कितना पसंद करते हैं आप का आत्मसम्मान आपकी आत्म छवि  से तय होता है। आप खुद को किस रूप में देखते हैं और दूसरों के साथ रोजमर्रा के व्यवहार में आप अपने बारे में क्या सोचते हैं? आप की आत्म छवि आप के आत्मआदर्श से बनती है।  आपका आत्म दर्शन आपके गुणों ,जीवन मूल्यों, लक्ष्य, आशाओं, सपनों और उम्मीदों से मिलकर बनता है। मनोवैज्ञानिकों ने खोजा है कि आप का असल  व्यवहार आपके हिसाब से अपने आदर्श व्यवहार के जितने तालमेल में होता है। उतना ही ज्यादा आप खुद को पसंद करते हैं, उतना ही ज्यादा सम्मान करते हैं और उतना ही ज्यादा खुश भी आप रहते हैं। दूसरी तरफ जब भी आप ऐसे तरीके से व्यवहार करते हैं जो आप के सर्वश्रेष्ठ व्यवहार के आदर्श के विपरीत हो तो आपकी आत्म छवि नकारात्मक हो जाती है। आप हमेशा यह महसूस करते हैं कि आप अपने मनचाहे सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन से कम परिणाम दे रहे हैं। परिणाम स्वरुप आपका आत्मसम्मान और खुशी का स्तर कम हो जाता है। इसलिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करें। जिस पल आप अपने सर्वोच्च आदर्शों के तालमेल में चलने, बोलने, व्यवहार करने लगते हैं। आप की आत्म छवि बेहतर हो जाती है आप का आत्मसम्मान बढ़ जाता है और आप अपने तथा अपनी दुनिया के बारे में ज्यादा खुशी महसूस करते हैं।  उदाहरण के तौर पर जब भी आपकी प्रशंसा होती है यह आपको किसी उपलब्धि के लिए इनाम मिलता है, तो आप का आत्मसम्मान बढ़ जाता है। कई बार तो आप खुद से बहुत ही ज्यादा खुश होते हैं। आप महसूस करते हैं कि आपकी पूरी जिंदगी मजे में हैं और अपने सर्वोच्च आदर्शों के अनुरूप जी रहे हैं। आप खुद को सफल और मूल्यवान मानते हैं। आपका लक्ष्य सुनियोजित तरीके से ऐसी परिस्थितियों पैदा करना होना चाहिए जो आपके हर काम में आपका सम्मान बढ़ा दे। आपको इस तरह जीना चाहिए जैसे आप उसी तरह के असाधारण व्यक्ति बन चुके हो जिस तरह क्या भविष्य में बनने का इरादा रखते हैं।

इन विचारों को ब्रायन ट्रेसी द्वारा लिखी गई एक किताब में से चुना गया है अगर यदि आप इन विचारों पर अमल करेंगे तो आपके जीवन में कई तरह के परिवर्तन हो सकते हैं। 

Leave a Reply