धैर्यवान होना एक कला है। इस बात को समझना है कितना जरुरी !

खबरें जीवन-शैली

इस धरती पर यदि सबसे समझदार प्राणी की बात की जाये तो वह और कोई नहीं बल्कि इंसान है। भगवन ने इंसान को अलग अलग कलाओं से सुशोभित किया है। इन कलाओं में में दक्ष होने के कारण ही प्रत्येक व्यक्ति अलग-अलग क्षेत्रों में अपने कौशल का परिचय दे चुका है और देने के लिए प्रयासरत है। इस लेख में मैं बात करने जा रहा हूँ इन सभी कलाओं में से एक कला की जिसका नाम है धैर्य !
धैर्य एक ऐसा गुण है जो इंसान के मन को शांत करता है। लेकिन धैर्य रखने की यह कला हमारे समाज में समाप्त होती जा रही है। ऐसा लगता है कि मनुष्य इस कला को या तो समझता नहीं है या फिर उसे लगता है कि धैर्य से उसके जीवन में कोई लाभ नहीं होने वाला है। किन्तु सत्य को थोड़ा निकट से देखा जाये तो आपको आभास होगा कि हमारे समक्ष धैर्य का सबसे बड़ा उदाहरण “प्रकृति” के रूप में ही मौजूद है। जरा सोचने कि क्या कभी ऐसा हुआ है कि रात में आप सोयें और सुबह उठते ही आपके घर के सामने एक बड़ा पेड़ खड़ा हो गया। नहीं ना, प्रकृति का अपना सिद्धांत है कि हर काम की एक निश्चित समय सीमा है और उस समय के पूर्ण होने के बाद ही उसका परिणाम हमें मिलता है फिर चाहें हमारी इच्छाएं कुछ भी हों।
हमारा स्वभाव ऐसा हो चुका है कि हम हर चीज समय से पहले ही पाने की दौड़ में शामिल हो गए हैं। हमने धैर्य रखने की इस अनूठी कला को तिलांजली ही दे दी है और धैर्य की कमी से ही हमारा क्रोध उसकी जगह नजर लेता आ रहा है। यही वजह है कि धैर्य की कमी से क्रोध उसकी जगह लेता नजर आ रहा है। यही कारण है कि हमारा मन अशांत है और हम स्वयं से ही संतुष्ट नहीं हो पा रहे हैं। हमारे मन में एक ही भाव है की कैसे न कैसे मेरा सब कुछ रातों रात बदल जाये और मैं सुखी हो जाऊं। आप ही बताएं कि क्या यह संभव है ? यह तभी संभव है जब धैर्य से अपने मन को सही दिशा-निर्देश देते हुए हम प्रकृति के नियमानुसार कार्य करेंगे। आप स्वयं अनुभव करेंगे कि आपका धैर्य उस कार्य को अपने उत्कर्ष पर पहुंचाने के लिए आपको एक सही व्यक्तित्व के रूप में इस दुनिया में प्रस्तुत करेगा। नहीं हो हम अपना जीवन यह सोचते सोचते नष्ट कर लेंगे कि मैं जल्दी से जल्दी अपने जीवन में कुछ हासिल कर लूं। और यही बात इस जीवन का सबसे बड़ा असत्य है। आपका जीवन आपका सबसे बड़ा धन है। इसे धैर्य के साथ यदि जीने की कला आपने सीख ली तो दूसरा व्यक्ति आपको कभी भी विचलित नहीं कर सकेगा।

Leave a Reply